गंगा सहाय मीणा के ताजा आलेख (Recent Media Articles of Ganga Sahay Meena

18 05 2012

गंगा सहाय मीणा (Ganga Sahay Meena) के ताजा मीडिया आलेखों की सूची निम्‍न है-

1)      लोक और शास्‍त्र का मेल त्‍योहार, हस्‍तक्षेप, राष्‍ट्रीय सहारा, नई दिल्‍ली, नवंबर 2009

2)      अंबेडकर और गांधी : संवाद जारी है, 23 फरवरी 2011, विस्‍फोट डॉट कॉम

3)      भाषा का यक्ष प्रश्‍न, देशबंधु, दिल्‍ली, 24 मार्च 2010

4)      सर्च इंजन का अभद्र व्‍यवहार, राजस्‍थान पत्रिका, जयपुर/दिल्‍ली, 25 मई 2010

5)      जनगणना का आदिवासी पहलू, जनसत्‍ता, दिल्‍ली, 20 जून 2010

6)      एक अनूठी पहल, जनसत्‍ता रविवारी, दिल्‍ली, 12 सितंबर 2010

7)      हिन्‍दी से प्रेम है तो बोलियों को बचाएं, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 20 सितंबर 2010

8)      कलावादी दृष्टि का सम्‍मान, राजस्‍थान पत्रिका, दिल्‍ली/जयपुर, 8 अक्‍टूबर 2010

9)      दलित मुक्ति का सवाल और भाषा, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 27 अक्‍टूबर 2010

10)  शोध में साधें भविष्‍य, हिन्‍दुस्‍तान, दिल्‍ली, 30 नवंबर 2010

11)  जाति गणना के मुद्दे की बुनियादी समझ, राष्‍ट्रीय सहारा, दिल्‍ली, 19 दिसंबर 2010

12)  चुनावी संघर्ष में दांव पर लोकतंत्र, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 13 जनवरी 2011

13)  ऐतिहासिक अन्‍याय के विरुद्ध, जनसत्‍ता, दिल्‍ली, 19 जनवरी 2011

14)  हिन्‍दी टंकण की मुश्किलें, जनसत्‍ता रविवारी, दिल्‍ली, 20 फरवरी 2011

15)  मातृभाषा से कोई समझौता नहीं, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 21 फरवरी 2011

16)  पचहत्‍तर पर ‘गोदान’ के आइने में आज, दैनिक भास्‍कर, 19 मार्च 2011

17)  लोहिया का अंगरेजी विरोध, अमर उजाला, दिल्‍ली, लखनऊ, 23 मार्च 2011

18)  अल्‍पसंख्‍यक संस्‍थान और सामाजिक न्‍याय, जनसत्‍ता, दिल्‍ली, 11 अप्रैल 2011

19)  विलुप्‍त होती भाषाएं और हम, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 18 अप्रैल 2011

20)  विषय ज्ञान बनाम भाषा ज्ञान, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 2 मई 2011

21)  अलविदा थार की लता, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 23 जुलाई 2011

22)  तब तक प्रासंगिक रहेंगे प्रेमचंद, जनसंदेश टाइम्‍स, लखनऊ, 31 जुलाई 2011

23)  वैकल्पिक मीडिया और भयभीत सरकार, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 19 सितंबर 2011

24)  दलित एजेंडे के विस्‍तार की कहानियां, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 5 नवंबर 2011

25)  पाकिस्‍तान में बीबीसी पर पाबंदी के मायने, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 8 दिसंबर 2011

26)  नैतिकता के बहाने, जनसत्‍ता, दिल्‍ली, 11 दिसंबर 2011

27)  भ्रष्‍टाचार और आरक्षण, हस्‍तक्षेप, राष्‍ट्रीय सहारा, 7 जनवरी 2012

28)  भारतीय भाषाओं में संवाद जरूरी, दैनिक भास्‍कर, 11 जनवरी 2012

29)  मूर्तियों पर राजनीति, अमर उजाला, 20 जनवरी 2012

30)  महाराष्‍ट्र में दलित राजनीति से जुडे कुछ सवाल, दैनिक भास्‍कर, 20 फरवरी, 2012

31)  स्‍तरीकरण के खतरे, जनसत्‍ता, 11 मार्च, 2012

32)  वंचित प्रतिभा की हत्‍या, जनसंदेश टाइम्‍स, लखनऊ, 12 मार्च, 2012

33)  डॉ लोहिया और भाषा का सवाल, दैनिक भास्‍कर, दिल्‍ली, 23 मार्च 2012

34)  मातृभाषाओं का संकट और डॉ. लोहिया, जनसंदेश टाइम्‍स, लखनऊ, 23 मार्च, 2012

35)  हिंदी का रुख, जनसत्‍ता रविवारी, नई दिल्‍ली, 6 मई, 2012

36)  पदोन्‍नति में आरक्षण के तर्क-वितर्क, दैनिक भास्‍कर, नई दिल्‍ली, 8 मई 2012

37) सिनेमा के दलित-आदिवासी प्रश्‍न, हस्‍तक्षेप, राष्‍ट्रीय सहारा, 19 मई 2012

Advertisements

क्रिया

Information

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s




%d bloggers like this: